Latest News

पूरे विश्व भर में पंचम अंतरराष्ट्रीय योग दिवस काफी धूमधाम से मनाया गया।

21 जून 2019 को पूरे विश्व भर में पंचम अंतरराष्ट्रीय योग दिवस काफी धूमधाम से मनाया गया।
21 जून 2019 को पूरे विश्व भर में पंचम अंतरराष्ट्रीय योग दिवस काफी धूमधाम से मनाया गया।

21 जून 2019 को पूरे विश्व भर में पंचम अंतरराष्ट्रीय योग दिवस काफी धूमधाम से मनाया गया

योग एक प्राचीन कला है जिसकी उत्पत्ति भारत में लगभग 6000 साल पहले हुई थी। पूर्व मंत्री श्री महाचन्द्र सिंह ने कहा -पहले समय में, लोग अपने दैनिक जीवन में योग और ध्यान, पूरे जीवन भर स्वस्थ और ताकतवर बने रहने के लिए किया करते थे। फिर भी, इस भीड़ वाले व्यस्त वातावरण में योग करना दिन प्रति दिन कम होता जा रहा है।

 

योग बहुत ही सुरक्षित क्रिया है और किसी के भी द्वारा किसी भी समय की जा सकती है, यहाँ तक कि इससे बच्चे भी लाभ ले सकते हैं।

ईस अवसर पर प्रसिद्ध लायन चिकित्सक डा राणा एस पी सिंह उपाध्यझ,भाजपा प्रदेश चिकित्सा प्रकोस्ठ ने कहा कि – योग वह क्रिया है, जिसके अन्तर्गत शरीर के विभिन्न भागों को एक साथ लाकर शरीर, मस्तिष्क और आत्मा को सन्तुलित करने का कार्य किया जाता है। पहले समय में योग का अभ्यास ध्यान की क्रिया के साथ किया जाता था। योग सांस लेने के अभ्यास और शारीरिक क्रियाओं का जोड़ है।

 

योग व्यवस्थित, वैज्ञानिक और परिणाम दोनों शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के सुधारों द्वारा प्राप्त किया जा सकता है।
ईस योग शिविर मे विधायक नितिन नबिन ,डा सुमन ,डा सुभास ,डा राणा प्रेमशंकर,बालमिकी शर्मा और योग गुरु श्री रामकिशोर सिंह का मार्ग दर्शन भारी संख्या मे योग कर रहे लोगो को मिला l


Our Latest E-Magazine

Sponsered By