"घूस के जमाना बा " महेश ठाकुर चकोर
Add Your Poem/Kavita Entertainment Hindi / Bhojpuri Kavita Hindi Poem on Patriotic

“घूस के जमाना बा ” महेश ठाकुर चकोर

कवि संक्षिप्त परिचय :- नाम :- जनकवि महेश ठाकुर चकोरमुजफ्फरपुर (बिहार )फेसबुक संपर्क सुत्र :-  घूस के जमाना बा मुंह मत देख, फेंक घूस के जमाना बा मर्द हाक़िम लेता लेता हाक़िम जे जनाना बा मूँह मत देख...

Read More
Add Your Poem/Kavita Entertainment Hindi / Bhojpuri Kavita Hindi Poem on Patriotic News trending

मज़दूरों ने देश सजाया :महेश ठाकुर चकोर

कवि संक्षिप्त परिचय :- नाम :- जनकवि महेश ठाकुर चकोरमुजफ्फरपुर (बिहार )फेसबुक संपर्क सुत्र :-  मज़दूरों ने देश सजाया मज़दूरों ने देश सजायाउनकी करुण कहानी हैपेट...

Entertainment Hindi / Bhojpuri Kavita Hindi Poem on Patriotic

“कविता “हर हृदय में बसने वाले उच्चशिखर को छू लिये :- जनकवि महेश ठाकुर चकोर

कवि संक्षिप्त परिचय :- नाम :- जनकवि महेश ठाकुर चकोरमुजफ्फरपुर (बिहार )फेसबुक संपर्क सुत्र :- हर हृदय में बसने वाले उच्चशिखर को छू लिये जल-चंदन-सा घूलियेअगड़ा...