पिंकिश फाउंडेशन के राष्ट्रीय मीडया और पीआर हेड बने चिरतंन कुमार

BHOJPURI MEDIA

ANKIT PIYUSH

 

पिंकिश फाउंडेशन के राष्ट्रीय मीडया और पीआर हेड बने चिरतंन कुमार

पटना 15 जून महिला सशक्तीकरण को बढावा देने की दिशा में काम कर रही स्वंय सेवी संगठन (एनजीओ) पिंकिंश फाउंडेशन ने श्री चिरंतन कुमार को राष्ट्रीय मार्केटिंग हेड बनाया है।

पिंकिश फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अरूण कुमार गुप्ता ने समाजसेवी और शिक्षाविद श्री चिरंतन कुमार को  राष्ट्रीय मीडिया और पीआर हेड बनाया है। उन्होने खुशी जाहिर करते हुये कहा कि श्री चिरंतन कुमार ने न सिर्फ शिक्षा के क्षेत्र में बल्कि सामाजिक क्षेत्र में उल्लेखनीय काम किये हैं। वह हमेशा खासकर महिला सशक्तीकरण की दिशा में कई संस्थाओ से जुडकर काम कर रहे हैं। उन्होंने बच्चों की शिक्षा की दिशा में बढ़चढ़कर हिस्सा लिया है साथ ही उन्होने बच्चों की शिक्षा , झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाली महिला-बच्चों की मुफ्त चिकित्सा समेत कई सामाजिक काम किये हैं।श्री चिरंतन कुमार को मीडया हेड बनाकर मे खुशी मिल रही है।

उन्हें देश भर में पिंकिश मैगजीन के मार्केटिंग और विस्तार की जिम्मेवारी सौंपी गयी है और उम्मीद है वह इसे बखूबी  निभायेंगे। पिंकिश फाउंडेशन की ओर से पिंकिश मैगजीन का प्रकाशन किया जाता है जिसके तहत समाज में अलग-अलग क्षेत्र में काम करने वाली महिलाओं को प्रमोट किया जाता है। इस मैगजीन से हर प्रदेश की हजारो महिलायें जुड़ी हुयी है।

श्री चिरंतन कुमार ने कहा कि पिंकिश फाउंडेशन साथ जुड़कर काफी खुशी महसूस हो रही है। मैं इसके लिये श्री अरूण गुप्ता और पिंकिश की मुख्य संपादक श्रीमती शालिनी कश्यप का शुक्रिया अदा करना चाहता हूँ कि उन्होंने मुझे यह जिम्मेवारी सौंपी है।पिंकिश एक ऐसी मैगजीन है, जो महिलाओं की सोच का दायरा बढ़ाएगी और एक सामाजिक वातावरण में महिलाओं को बढ़ने की सुविधा प्रदान करेगी।पिंकिश मैगजीन का उद्देश्य महिला सशक्तीकरण की दिशा में काम कर रही महिलाओं को प्रमोट करने का है। महिलाओं में अपरिमित शक्ति और क्षमताएँ विद्यमान हैं। व्यवाहरिक जगत के सभी क्षेत्रों
में उन्होने कीर्तिमान स्थापित किये हैं।

 

अपने अदभुत साहस, अथक परिश्रम तथा दूरदर्शी बुद्धिमत्ता के आधार पर विश्वपटल पर अपनी पहचान बनाने में कामयाब रहीं हैं। पिंकिश मैगजीन के जरिये अलग-अलग क्षेत्र में उल्लेखनीय काम करने वाली महिलाओं से संबंधित लेख प्रकाशित किये जायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *