News Politics

चुनाव प्रचार के अंतिम दिन बक्‍सर लोकसभा क्षेत्र में अनिल कुमार ने झोंकी पूरी ताकत

चुनाव प्रचार के अंतिम दिन बक्‍सर लोकसभा क्षेत्र में अनिल कुमार ने झोंकी पूरी ताकत
चुनाव प्रचार के अंतिम दिन बक्‍सर लोकसभा क्षेत्र में अनिल कुमार ने झोंकी पूरी ताकत

बक्‍सर। लोकसभा चुनाव 2019 के अंतिम चरण के चुनाव प्रचार के अंतिम दिन आज जनतांत्रिक विकास पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह बक्सर लोकसभा क्षेत्र से प्रत्याशी श्री अनिल कुमार ने आज पूरी ताकत झोंक दी। इस क्रम में अनिल कुमार ने अपने हजारों समर्थकों के साथ डुमरांव व बक्सर में रोड शो किया। वही छठिया पोखरा से गोला रोड, गुलटेनी स्कूल होते हुए नया थाना से शाहिद गेट (डुमरांव) फिर चरित्रवन से मठिया मोड़, नई बाजार,ज्योति चौक, कुंअर सिंह चौक तक (बक्सर) एक विशाल जुलूस का भी आयोजन किया गया।

इस दौरान अनिल कुमार ने बक्‍सर की जनता से अपील करते हुए कहा कि बेटा विकास करेगा, नेता विनाश करेगा। अब वह समय आ गया है,जब जनता को बक्‍सर और यहां के भविष्‍य के लिए फैसला लेना है। हमें चुनाव प्रचार के दौरान जिस तरह से आपका सहयोग और दुलार मिला है, उससे मुझे पूरा भरोसा है कि बक्‍सर की जनता 19मई सिलाई मशीन छाप पर बटन दबा कर अपने बेटे को वोट करेगी।

चुनाव प्रचार के अंतिम दिन रोड,अस्‍पताल, शिक्षा, सम्‍मान, महिला,रोजगार, अधिकार, सुरक्षा आदि जनहित के मुद्दों पर जोर देते हुए अनिल कुमार ने विरोधियों पर भी निशाना साधा। इस दौरान उन्‍होंने कहा कि बक्‍सर ने हमेशा जिन नेताओं पर विश्‍वास किया, उन्‍होंने बक्‍सर को छलने का काम किया है। बाबा और बाबू के खेल में बक्‍सर विकास से दूर हुआ है।

 

उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री को विपक्ष की टिप्‍पणी गाली लगती है, जबकि‍ वे खुद एक पक्षीय बयान देते हैं। वैसे बक्‍सर में उनके आने से जनता पर कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला है।  अनिल कुमार ने पीएम मोदी समेत भाजपा नेताओं द्वारा खुद को चौकीदार बताने पर आपत्ति जताई। उन्‍होंने कहा कि यह हमारे गरीब चौकीदार भाईयों का अपमान है, क्‍योंकि चौकीदार कभी चोर नहीं होते। लेकिन भाजपा के लोग चोर हैं। दुर्भाग्‍यपूर्ण तो ये है कि हमारे वर्तमान सांसद भी खुद को चौकीदार कहते हैं और अपने कार्यकाल में सोलर लाइट समेत कई चोरियां भी करवाई।

 

सबसे बड़ी चोरी तो बक्‍सर को मिलने वाली एम्‍स मामले में है, जिसे वे अपने गृह नगर लेकर चले गए। उन्‍होंने कहा कि भगवान राम की जन्‍म स्‍थली की चिंता तो सबको है, लेकिन उनकी ज्ञानस्‍थली बक्‍सर की चिंता किसी को नहीं है। आखिर क्‍यों जहां भगवान राम ने ज्ञान प्राप्‍त किया, आज वहां एक भी ढ़ंग का यूनिवर्सिटी नहीं है और न ही एक भी महिला कॉलेज है।

अनिल कुमार ने कहा कि जगदानंद सिंह15 साल सिंचाईं मंत्री रहे। पांच साल सांसद रहे। लेकिन क्‍या बक्‍सर का कोई भला हुआ। क्‍या किसानों के खेत में पानी पहुंचा। किसानों को उनका समर्थन मूल्‍य मिला। नहीं ना। उन्‍होंने कहा कि जब जनता ने मौका दिया, तब कुछ किया नहीं।

अब एक बार फिर से कह रहे हैं कि एक मौका और दे दीजिए। लेकिन जनता उन्‍हें मौका क्‍यों दे, जब दिया त‍ब जनता पर सामंतवाद तरह से राज किया। जनता ने नेता बनाया और ये मालिक  बन गए। लेकिन बक्‍सर के लिए कुछ नहीं किया।

 

यहां जो चीनी मिल, कपड़ा मिल और अन्‍य उद्योग धंधे थे, वो भी बंद करवा दिया। उन्‍होंने कहा कि जगदानंद सिंह ने मलई बराज को रोककर किसानों का पानी छीनने का काम किया, ऐसी सामंती मानसिकता वाले लोगों को जनता सबक सिखाने मन बना चुकी है।

रैली में मुख्य रूप से रवि प्रकाश, मंटू पटेल, संतोष यादव, चक्रवर्ती चौधरी,जगत नारायण सिंह, मोहन राम, संजय मंडल, डॉ रामराज भारती, सुविदार दास,आशुतोष पांडेय, राजा यादव, मोहन गुप्ता,संतोष यादव, रमेश राम, चंद्रशेखर सिंह,अरुण सिंह, वीरेंद्र सिंह, रामाधार राम के साथ सैकड़ो समर्थक मौजूद थे।

About the author

Ankit Piyush

Ankit Piyush is the Editor in Chief at BhojpuriMedia. Ankit Piyush loves to Read Book and He also loves to do Social Works. You can Follow him on facebook @ankit.piyush18 or follow him on instagram @ankitpiyush.

Add Comment

Click here to post a comment