Entertainment Fashion News

रत्ना गांगुली बनीं सावन क्वीन

रत्ना गांगुली बनीं सावन क्वीन
रत्ना गांगुली बनीं सावन क्वीन

रत्ना गांगुली बनीं सावन क्वीन

पटना, 11 अगस्त पटना, सामाजिक संगठन दीदीजी फाउंडेशन ने धूमधाम के साथ सावन मिलन समारोह का आयोजन किया, जहां रत्ना गांगुली ने सावन क्वीन का ताज अपने नाम किया। राजधानी पटना के कुरथौल के राजपूताना स्थित फुलझड़ी गार्डन में दीदीजी फाउंडेशन की संस्थापिका डा. नम्रता आनंद ने सावन की उमंग दीदीजी फाउंडेशन के संग कार्यक्रम का आयोजन किया।सावन मिलन में सभी सदस्य महिलाएं हरे ड्रेस के साथ सावन क्वीन की प्रतियोगिता में शामिल हुई। इस अवसर पर बतौर जज मिसेज इंडिया कांन्टिनेट श्रीमती श्वेता झा, मिस पटना दिव्यांशी,आईग्लौम मिसेज बिहार फर्स्ट रनर अप स्वर्णलता शर्मा, मिस रॉयल स्टार इंडिया अलीशा मौजूद थी। सुप्रसिद्ध गायिका रत्ना गांगुली सावन क्वीन बनी। वहीं श्रेया श्रीवास्तव और चंदा पहली और दूसरी रनर अप बनी। विजेताओं को क्राउन और गिफ्ट देकर सम्मानित किया गया।

राजधानी पटना की रहने वाली रत्ना गांगुली की मां प्रियतमा गांगुली और पिता शंकर गांगुली हैं। बचपन के दिनों से रत्ना गांगुली को पार्श्वगायन का शौक था।
उनकी मां प्रियतमा गांगुली भी पार्श्वगायन करती थी। रत्ना गांगुली को गायन की प्रेरणा अपनी मां से मिली, जिनके सानिध्य में वह गायन सीखने लगी। रत्ना गांगुली ने स्कूल में होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों में हिस्सा लेना शुरू किया, जिससे उन्हें काफी ख्याति मिली। स्वर कोकिला लता मंगेश्कर को आदर्श मानने वाली रत्ना गांगुली ने देहरादून में आयोजित इंडियाज गॉट टैलेंट में हिस्सा लिया है। रत्ना गांगुली की दो छोटी बहन सपना गांगुली और संतोषी गांगुली हैं। सावन क्वीन का खिताब जीतने पर रत्ना गांगुली ने खुशी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि साावन खुशियों का पर्व है। सावन के मौसम में बहार और हरियाली देखने को मिलती है।


Our Latest E-Magazine

Sponsered By