News

समाज सेवा की मिसाल बन गये हैं सुनील कुमार सिंह

समाज सेवा की मिसाल बन गये हैं सुनील कुमार सिंह

पटना 17 नवंबर बात चाहे पुलवामा आतंकी हमले मेंशहीद के पीड़ित परिवार की आर्थिक सहायता की हो , या फिर बाढ़ की विभीषिका को झेल पीड़ित परिवार की मदद की हो जेनिथ कामर्स के क्षेत्र में अग्रणी इंस्टीच्यूट जेनिथ कामर्स एकादमी के प्रबंध निदेशक सुनील कुमार सिंह उनकी सहायता के लिये हमेशा तत्पर रहते हैं।सुनील कुमार सिंह समाज को नई दिशा देने का प्रयास में लगे हुये हैं। समाज सेवा का बीड़ा उठाने वाले सुनील कुमार सिंह लोगों के लिये प्रेरणा स्रोत भी बनते जा रहे हैं। सुनील कुमार सिंह ने अपने हर एकnप्रयास से एक बेहतर मुकाम भी हासिल कर चुके हैं, जिनके कार्यों की सराहना हर बार होती है।

 

 

सुनील कुमार सिंह अपने लगन एवं दृढ़ विश्वास के बूते समाज को सही दिशा एवं दशा देने के प्रयास में जुटे रहते हैं।हाल के समय में राजधानी पटना समेत अन्य इलाकों में जब लोग बाढ़ की विभीषिका को झेल रहे थे तब इन लोगों के लिये मदद के लिये सुनील कुमार सिंह आगे आये। सुनील कुमार सिंह ने बाढ़ पीड़ित जरूरतमंद लोगों के बीच भोजन ,दवाई ,मच्छरदानी और अन्य जरूरी वस्तु वितरित की।इससे पूर्व रक्षाबंधन के दिन सुनील कुमार सिंह के नेतृत्व में जेनिथ कामर्स एकादमी की छात्राओं ने ट्रैफिक पुलिसकर्मियों की कलाई पर राखी बांधी।सुनील सिंह ने बताया कि पुलिसकर्मी हमलोगों की रक्षा में अपने परिवार को छोड़ नि:स्वार्थ होकर हमारी सुरक्षाnकरते हैं ऐसे में राखी के पावन पर्व पर उनकी कलाई सूनी न रहे और घर से दूर होने पर भी उन्हें घर होने का अहसास हो इसी को देखते हुये यह आयोजन किया गया।

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुये हमले में देश के 40 जवान शहीद हो गए थे। हमले में शहीद परिवार के मदद के लिये भी सुनील कुमार सिंह ने आर्थिक सहायता की थी।सुनील कुमार सिंह ने बताया कि जवान हमारी सीमाओं की रक्षा करने के लिए खड़े रहते हैं. हम हमारे जवानों के परिवारों के साथ खड़े हैं और हमेशा ही उनके साथ रहेंगे।

बढ़ते हुए ठंड के प्रकोप और सर्द हवाओं में जहाँ आम लोग अपने अपने घरों में खुद को महफूज रखने में लगे हैं. वहीं सुनील कुमार सिंह अपने अलावें औरो के बार में भी सोचते हैं।वह ऐसे लोगों के बारे में सोंचते हैं जिन्हें सर्द मौसम में अपने तन को ढकने के लिए ढंग के कपडे तक मयस्सर नहीं हैं।ठण्ड और शीत लहर के मौसम में वह रोजाना अपने इलाके में जरूरतमंद लोगों की तलाश कर उन्हें कम्बल वितरित करते रहे हैं।उन्होंने बताया कि इस तरह से समाज सेवा कर उन्हें काफी सुकून मिलता है।

बिहार के मधेपुरा जिले के आलमनगर प्रखंड में वर्ष 1977 में जन्में सुनील कुमार सिंह ने शिक्षा के क्षेत्र साथ ही खेल के क्षेत्र में अपनी
विशिष्ट पहचान बनायी है। सुनील कुमार सिंह द्वारा राजधानी पटना में संचालित जेनिथ कामर्स एकादमी ने सफलता के शिखर के 19 साल पूरे कर लिये हैं। जेनिथ कामर्स एकादमी से अबतक 45 हजार से अधिक छात्र शिक्षा हासिल कर विभिन्न कंपनियों में उच्चपद पर आसीन है।सुनील कुमार सिंह को उनके अबतक के कार्यकाल के दौरान मान-सम्मान भी खूब मिला । वर्ष 2010 में सुनील कुमार सिंह पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा की ओर से बिहार रत्न सम्मान से नवाजे गये।

 

इसके बाद सुनील कुमार सिंह को समय-समय पर कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय सम्मानों से नवाजा गया। वर्ष 2011 में सुनील कुमार सिंह बैंकॉक में हुये स्टार अंतर्राष्ट्रीय सम्मान, बिहार शिक्षा केसरी , पाटलिपुत्रा शिक्षा सम्मान , अर्मत्य सेन सम्मान और वर्ष 2017 में पूर्व कला ,खेल एवं संस्कृति मंत्री श्री शिवचंद्र राम के द्वारा खेल सम्मान से नवाजे गये।

सुनील कुमार की रूचि खेल और संगीत की ओर भी है। वह बिहार में अबतक 30 से अधिक टूर्नामेंट का आयोजन कर चुके हैं।सुनील कुमार सिंह बिहार के कलाकारों को मंच देना चाहते थे और इसी को देखते हुये उन्होने अपने इंस्टीच्यूट की ओर से कान्सर्ट का आयोजन शुरू किया। उनके कान्सर्ट में बॉलीवुड के मशहूर पार्श्वगायक अंकित तिवारी , डीआईडी के मयूरेश समेत कई जानी मानी हस्तियों ने शिरकत की है। सुनील कुमार सिंह का सपना अब फिल्म निर्माण का भी है।

About the author

Ankit Piyush

Ankit Piyush is the Editor in Chief at BhojpuriMedia. Ankit Piyush loves to Read Book and He also loves to do Social Works. You can Follow him on facebook @ankit.piyush18 or follow him on instagram @ankitpiyush.

1 Comment

Click here to post a comment

  • Wow, awesome blog layout! How long have you been blogging for?
    you made blogging glance easy. The overall glance of your
    web site is magnificent, as smartly as the content material!
    You can see similar here sklep online