News

संगीत को साधना मानते हैं विनय राय

BHOJPURI MEDIA ANKIT PIYUSH (https://www.facebook.com/ankit.piyush18   संगीत को साधना मानते हैं विनय राय संगीत कार्यक्रम और और महफिलों से मिली शोहरत तथा कामयाबी ने कभी साफटवेयर इंजीनियर का काम करने वाले विनय राय अपनी जादुई आवाज की कशिश से श्रोताओं के दिलों की धड़कन बन गये हैं और उनकी आवाज सुनते ही श्रोताओं के दिल […]

BHOJPURI MEDIA

ANKIT PIYUSH (https://www.facebook.com/ankit.piyush18

 

संगीत को साधना मानते हैं विनय राय

संगीत कार्यक्रम और और महफिलों से मिली शोहरत तथा कामयाबी ने कभी साफटवेयर इंजीनियर का काम करने वाले विनय राय अपनी जादुई आवाज की कशिश से श्रोताओं के दिलों की धड़कन बन गये हैं और उनकी आवाज सुनते ही श्रोताओं के दिल से बस यही बात निकलती है जब छाये तेरा जादू कोई बच ना पाये।

विनय राय को  हाल ही में एनजीटाउन का फाउंडेशन डे और सीसीएल 2 के जर्सी लांच पर सर्वश्रेष्ठ  सिंगिंग के सम्मानित किया गया है। इस समारोह का आयोजन एनजी टाउन के सीएमडी (संजय सिंह और नमिता सिंह ) द्वारा प्रायोजित कॉर्पोरेट क्रिकेट लीग (सी.सी.एल.) सीजन-2 की जर्सी लॉन्चिंग के उपलक्ष्य में किया गया जिसमे यंग अचीवर्स अवार्ड से उन 25 महिलाओं एवं पुरुषों को  सम्मानित किया गया जिन्होंने अपने-अपने क्षेत्र में राज्य एवं देश का नाम रौशन करने के साथ-साथ समाज के लिए प्रेरणादायी कार्य किया है।विनय राय ने हाल ही में राजधानी पटना के गांधी मैदान में काइट फेस्टिबल के अवसर पर सिंगिंग भी की थी जिसके लिये कमिश्नर आनंद किशोर ने उनकी काफी सरहाना की।

मूल रूप से बिहार के नालंदा जिले के बिहारशरीफ शहर के रहने वाले विनय राय के पिता पश्चिम बंगाल के आसनसोल में कोल इंडिया में नौकरी किया करतेहैं और इसी को देखते हुये वह अपने परिवार के साथ आसनसोल चले गये। आसनसोल में पढ़ाई के दौरान विनय राय की रूचि गींत-संगीत की ओर हो गयी। बचपन के दिनों में विनय राय आसनसोल के सांसकृतिक कार्यक्रम में भजन गाया करते थे।वर्ष 2013 में
विनय राय ने कोलकाता में हुये एक सांस्कृतिक कार्यक्रम में हिस्सा लिये जिसमें वह विजेता चुने गये।

विनय के पिता राम रतन राय अपने पुत्र को भी बड़े अधिकारी के तौर पर देखने की ख्वाहिश रखते थे । पिता की आज्ञा को सर आंखो पर लेते हुये विनय ने एमसीए का कोर्स किया और हैदराबाद में साफटवेयर इंजीनियर के तौर पर काम करने लगे। विनय के दिल में कुछ कर गुजरने की ख्वाहिश थी । वह संगीत की दुनिया में अपनी पहचान बनाना चाहते थे। इसी को देखते हुये विनय ने एक बार फिर से संगीत कार्यक्रम में  हिस्सा लेना शुरू कर दिया ।  विनय की मेहनत रंग लायी  वर्ष 2016 में विनय ने दूरदर्शन के शो टैलेंट ऑफ बिहार में हिस्सा लिया और वह टॉप 3 में शामिल हो गये।विनय इसका श्रेय दूरदर्शन और कार्यकम के आयोजक रंजीत कुमार को देते है जिन्होंने बिहार की पावन धरती पर इतने बड़े शो का आयोजन किया।

वर्ष 2017 में विनय राय को संगम कला ग्रुप :बिहार चैप्टर ‘ की ओर से दिल्ली में बिहार की ओर से प्रतिनिधित्व करने का अवसर मिला।    कहते हैं अगर किसी चीज को दिल से चाहो, तो पूरी कायनात उसे तुमसे मिलाने की साजिश में लग जाती हैं। विनय ने इस शो में हिस्सा लियाऔर श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। शो में बतौर अतिथी शिरकत करने आये बॉलीवुड के सुप्रसिद्ध गायक सोनु निगम , विनय की आवाज सुनकर मंत्रमुग्ध हो गये और कहा बिहार में ऐसी प्रतिभा भी होती थी मालूम नही था। उन्होंने विनय को चीयरअप किया।

 

कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो कोई भी काम नामुमकिन नहीं। इस बात को साबित कर दिखाया है विनय राय ने। सिंगिंग रियलिटी शो राइजिंग स्टार के लिये चुने गये लेकिन विजेता बनने में सफल नही रहे। विनय आज बिहार,झारखंड और पश्चिम बंगाल में अपनी खास पहचान बना चुके हैं। विनय राय की ख्वाहिशबॉलीवुड प्लेबैक सिंगर बनने की है। विनय राय बॉलीवुड के रॉकस्टार यानी रणबीर कपूर की आवाज बनना चाहते हैं। विनय ने बताया कि वह अपनी कामयाबी का पूरा श्रेय अपनी मां संजना राय और पिता राम रतन राय  देते हैं जिन्होंने उन्हें हमेशा सपोर्ट किया है।

 

Bhojpuri Media
Contact for Advertisement

Mo.+918084346817

+919430858218

Email :-ankitpiyush073@gmail.com.

bhojpurimedia62@gmail.com

Facebook Page https://www.facebook.com/bhojhpurimedia/

Twitter :- http://@bhojpurimedia62

Google+ https://plus.google.c
m/u/7/110748681324707373730

You Tube https://www.youtube.com/bhojpurimediadotnet

About the author

martin

Add Comment

Click here to post a comment