Entertainment

एनएसआई डांस एकेदमी का वार्षिक समारोह धूमधाम से मनाया गया

एनएसआई डांस एकेदमी का वार्षिक समारोह धूमधाम से मनाया गया
एनएसआई डांस एकेदमी का वार्षिक समारोह धूमधाम से मनाया गया

एनएसआई डांस एकेदमी का वार्षिक समारोह धूमधाम से मनाया गया

पटना 08 सितंबर राजधानी पटना के मशहूर डांस इंस्टीच्यूट एनएसआई एकादमी का वार्षिक कार्यक्रम धूमधाम के साथ मनाया गया।

एनएसआई डांस एकेडमी के निदेशक शांदिल इशान की ओर से राजधानी पटना के प्रेमचंद रंगशाला में वार्षिक समारोह का भवय आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरूआत दीप प्रज्जवलन से की गई। इसके बाद गणेश वंदना से कार्यक्रम का भव्य आगाज किया गया।कार्यक्रम के दौरान इंसटीच्यूट के 100 से अधिक बच्चों ने शिरकत की और अपनी धमाकेदार प्रस्तुति से लोगों का दिल जीत लिया।कार्यक्रम में प्रतिभागियों ने शास्त्रीय संगीत से लेकर पाश्चात्य संगीत पर आधारित डांस के जरिये लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया।कार्यक्रम के दौरान बच्चो के द्वारा मार्शल आर्ट ,फ्री स्टाइल, अर्बन स्टाइल, बॉलीवुड स्टाइल, ,शास्त्रीय संगीत और मौजूदा दौर पर आधारित डांस प्रस्तुत किये गये।

कार्यक्रम के दौरान बिहार में अलग-अलग क्षेत्र में उल्लेखनीय
योगदान देने वाले 20 लोगों को बिहार स्वर्ण कला सम्मान से सम्मानित किया गया।सम्मानित होने वाले लोगों में विजेन्द्र सिंह ,खुशबू उत्तम ,दीप श्रेष्ठ ,अनिल पाल अन्नू , प्रेम कुमार ,पुष्पा सिंह ,निशा सिंह ,मिस्टर लार्ड , रवि मिश्रा ,नीतु कुमारी नवगीत , नाजिया मजीद हसन ,प्रवीण सप्पू ,रणजीत कुमार,अरमान सिंह ,रवीन्द्र कुमार ,प्रेम संथालिया ,कुमार विरल शामिल थे।कार्यक्रम में देवन मिश्र को बेस्ट फिल्म का पुरस्कार दिया गया।

डांस-डांस-डांस सीजन 03 के विजेता इस बार बिंदास राकर्स रहे जिनके कैप्टन नंदिनी और तेजस थे जबकि स्कीपर प्रिया एशले थी। नादान परिंदे सेकेंड रनर अप रहे।कोरियोग्राफी कंपटीशन में नंदिनी को बेस्ट कोरियोग्राफर और माही को सेकेंड पुरस्कार मिला। विजेता बच्चों को आने वाली फिल्म लव यू इश्क में कोरियोग्राफी करने का अवसर मिलेगा।जज के तौर पर अनिल पाल अन्नू ,शांदिल इशान और दीप श्रेष्ठा थे।
शांदिल इशान ने बताया कि अवार्ड का मुख्य उद्देश्य बिहार में रहकर बिहार इंडस्ट्री के लिये काम कर अलग-अलग क्षेत्र के कलाकारों को सम्मानित करना था। बिहार के कई कलाकार मुंबई या बाहर रहकर काम कर रहे हैं जिससे बिहार इंडस्ट्री फीकी पड़ रही है लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो बिहार की
माटी से आज भी जुड़े हैं और काम कर रहे हैं।

 

शांदिल इशान ने बताया कि बिहार का इतिहास काफी गौरवाशली रहा है।विभिन्न हिस्सों एवं क्षेत्रों में कई लोग अपने स्तर पर निस्वार्थ भाव से निरंतर देश को आगे बढ़ाने में उल्लेखनीय योगदान दे रहे हैं।उन्हीं लोगों को प्रोत्साहित एवं उनके द्वारा देश और समाज के लिए किये जा रहे सराहनीय काम को सम्मान देने के लिये लोगों को बिहार स्वर्ण कला सम्मान दिया गया है।

शांदिल इशान ने बताया कि कार्यक्रम में वैसे लोगों को सम्मानित किया गया हैं जिन्होंने समाज में उल्लेखनीय योगदान देते हुये अपनी सशक्त पहचान बनायी है। इनमें हर क्षेत्र से जुड़े लोग शामिल हैं।सम्मानित किये जाने वाले लोगों में डांसर ,कलाकार ,,मॉडल ,पत्रकार समेत सभी वर्गो के लोग
शामिल हैं उन्होने कहा कि बिहार में प्रतिभाओं की कमी नही है। शत्रुध्न सिन्हा, मनोज वाजपेयी, सुशांत सिंह राजपूत, सोनाक्षी सिन्हा और शेखर सुमन जैसे कई कलाकार बिहार की माटी से जुड़े हुये हैं।

 

आने वाले समय में यहां के कलाकार भी अपना परचम बॉलीवुड में लहरा सकते हैं। उन्होने बताया कि उनके डांस इंस्टीच्यूट में डांस के साथ ही कोरियोग्राफी ,अभिनय और मॉडलिंग की ट्रेनिंग दी जाती है और उनके इंस्टीच्यूट में सिखाये कई बच्चें आज देश-विदेश में अपनी प्रतिभा का परचम लहरा चुके हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top