News

डेलनाज बलसारा शर्मा बनी मिसेज एशिया यूनिवर्स

डेलनाज बलसारा शर्मा बनी मिसेज एशिया यूनिवर्स          आज बादलों ने फिर साज़िश की    जहाँ मेरा घर था वहीं बारिश की    अगर फलक को जिद है ,बिजलियाँ गिराने की    तो हमें भी ज़िद है ,वहीं पर आशियाँ बनाने की         डेलनाज बलसारा शर्मा ने न सिर्फ […]

डेलनाज बलसारा शर्मा बनी मिसेज एशिया यूनिवर्स


         आज बादलों ने फिर साज़िश की
    जहाँ मेरा घर था वहीं बारिश की
    अगर फलक को जिद है ,बिजलियाँ गिराने की
    तो हमें भी ज़िद है ,वहीं पर आशियाँ बनाने की


        डेलनाज बलसारा शर्मा ने न सिर्फ इश्योरेंस और सामाजिक क्षेत्र में बल्कि अब फैशन और मॉडलिंग की दुनिया में भी अपनी अलहदा पहचान बना ली है।उनकी जिंदगी संघर्ष, चुनौतियों और कामयाबी का एक ऐसा सफ़रनामा है, जो अदम्य साहस का इतिहास बयां करता है। डेलनाज बलसारा शर्मा ने अपने करियर के दौरान कई चुनौतियों का सामना किया और हर मोर्चे पर कामयाबी का परचम लहराया।डेलनाज बलसारा शर्मा ने हाल ही में फिलिपिंस में आयोजित मिसेज एशिया यूनिवर्स 2018 में हिस्सा लिया और विजेता का ताज अपने नाम करने में सफल रही। फिनाले में देश-विदेश की 88 प्रतिभागियों ने शिरकत की थी। डेलनाज को मिसेज एशिया यूनिवर्स 2018 के साथ ही ब्रिलियेंट परफार्मेंस के खिताब से भी नवाजा गया। इससे पूर्व डेलनाज ने मिसेज इंडिया सी इज इंडिया के फिनाले में शिरकत किया और मिसेज इंडिया फर्स्ट रनर अप के साथ ही मिसेज इंडिया ब्यूटीफुल स्किन का भी  खिताब अपने नाम किया है। डेलनाज ने बताया कि वह इस बात को लेकर गर्व महसूस करती है कि वह पटना की बहू है।


        महाराष्ट्र के मुंबई में जन्मी डेलनाज के पिता श्री परवेज बलसारा और मां श्रीमती परवीन बलसारा दोनो ही सिपिंग व्यवसाय से जुड़े हुये थे। माता-पिता ने घर की लाडली बड़ी बेटी डेलनाज को अपनी राह खुद चुनने की आजादी दे रखी थी।


        जुनूँ है ज़हन में तो हौसले तलाश करो
        मिसाले-आबे-रवाँ रास्ते तलाश करो
        ये इज़्तराब रगों में बहुत ज़रूरी है
        उठो सफ़र के नए सिलसिले तलाश करो


 डेलनाज बिजनेस वुमेन बनना चाहती थी। डेलनाज ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा मुंबई से की। इंटर की पढ़ाई पूरी करने के बाद डेलनाज ने मुंबई के ब्रिटिश काउंसिल में वीजा सपोर्ट एक्सक्यूटिव के तौर पर काम करना शुरू कर दिया। करीब दो साल तक काम करने के बाद डेलनाज जेपी मॉरगन से जुड़ गयी और वहां काम किया। इसके बाद डेलनाज इंश्यूरेंस के क्षेत्र में अग्रणी रेलिगेयर के साथ जुड़ गयी और कस्टमर सपोर्ट एक्सक्यूटिव के तौर पर काम किया। बाद में डेलनाज की मेहनत को देखते हुये उन्हें कंपनी हेड कस्टमर मैनेजर भी बनाया गया।


        दुनिया के सबसे बेहतरीन और मशहूर लोग वो होते है जिनकी अपनी एक अदा होती है वो अदा जो किसी की नक़ल करने से नही आती… वो अदा जो उनके साथ जन्म लेती है…!! डेलनाज बलसारा शर्मा की शख्सियत की कुछ ऐसी हीं है।

About the author

martin

Add Comment

Click here to post a comment