Entertainment News

महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में पाखी हेगड़े को मिला मिड डे शोबिज आइकन अवॉर्ड मन्नारा चोपड़ा के हाथो .!

महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में पाखी हेगड़े को मिला मिड डे शोबिज आइकन अवॉर्ड मन्नारा चोपड़ा के हाथो .!
महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में पाखी हेगड़े को मिला मिड डे शोबिज आइकन अवॉर्ड मन्नारा चोपड़ा के हाथो .!

महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में पाखी हेगड़े को मिला मिड डे शोबिज आइकन अवॉर्ड मन्नारा चोपड़ा के हाथो .!

भोजपुरी फिल्मों की सदाबहार अभिनेत्री सह समाजिक कार्यकर्ता पाखी हेगड़े के लिए बीती शाम खुशियों भरा पल लेकर आया । मुम्बई में बीती शाम को बेहद प्रतिष्ठित और चर्चित छठे मिडडे शोबिज आइकन अवार्ड्स का भव्य आयोजन किया गया। इस अवॉर्ड शो में देश विदेश की कई जानी मानी हस्तियों ने शिरकत किया , जिसमें फ़िल्म जगत से लेकर व्यवसायी और राजनैतिक हस्तियां भी शामिल रहीं। इसी छठे मिडडे शोबिज आइकन अवार्ड्स समारोह में अभिनेत्री पाखी हेगड़े को महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में उनके अब तक के उत्कृष्ट और अनुकरणीय योगदानों को लेकर सम्मानित किया गया । पाखी हेगड़े को मंच पर सुप्रसिद्ध मॉडल अभिनेत्री मन्नारा चोपड़ा ने अपने हांथो से मिडडे शोबिज आइकन अवार्ड्स देकर सम्मानित किया । पाखी हेगड़े को इस वर्ष के प्रतीक के रूप में सम्मानित किया गया है । इस अवॉर्ड को मिलने के बाद पाखी हेगड़े ने पूरी फिल्म इंडस्ट्री सहित अपने तमाम सहयोगियों और अपने चाहने वालों का धन्यवाद करते हुए कहा कि आज सैकड़ों फिल्में कर लेने के बाद जब भी किसी समारोह में मुझे सम्मानित किया जाता है तो इसमें मैं अपने चाहने वालों का ही शुक्रिया करना चाहती हूँ क्योंकी आज मुझे इस मुक़ाम पर पहुंचाने वाले हमारे वही फैन और प्रशंसक ही हैं जिनके आशीर्वाद और प्यार से ये सारे मुक़ाम हमें मिलते रहते हैं।

अभिनेत्री पाखी हेगड़े लगातार समाजिक संगठनों के साथ मिलकर बालिकाओं के प्रशिक्षण और ट्रेनिंग के लिए भी सदैव प्रयासरत रहती हैं। वो फिल्मों के साथ साथ अपने सामाजिक दायित्वों का निर्वहन भी बख़ूबी कर रही हैं और इस बावत वे कहती भी हैं कि उन्हें समाज के लिए कुछ करने के बाद बेहद सुखद अनुभूति होती है। हर सफ़ल इंसान को समाज और अपने आसपास के लोगों की बेहतरी के लिए हमेशा प्रयासरत रहना ही चाहिए। मिडडे शोबिज आइकन अवार्ड्स में के प्रतीक बनने के बारे में बात करते हुए पाखी कहती हैं कि यह इस बात का प्रतीक है कि हमने अपने फ़िल्म जगत में और समाज मे भी अपने कर्तव्यों का बेहतरीन सामंजस्य बिठाया है । आपको लोग तभी सम्मान के नजरिये से देखते हैं जब आप उनके लिए वास्तव में धरातल पर कुछ करने की हिम्मत दिखा पाती हैं। आज हमारे लिए बेहद ख़ुशी के पल हैं और इन पलों को हम सबके साथ मिलजुलकर इजहार करेंगे । इस अवसर पर रणदीप हूड़ा ,अवनीत कौर ,अनुपम खेर ,नवाजुद्दीन दिव्या खोसला उपस्थित थी.