News

फेसबुक की वजह से मैं बन गया हीरो फिल्म ”पांचाली” में : रवि यादव

फेसबुक की वजह से मैं बन गया हीरो फिल्म ”पांचाली” में : रवि यादव सोशल नेटवर्किंग साइट की अहमियत इन दिनों कितनी है, ये इससे पता चलता है कि यह किसी का किस्‍मत भी बना सकती है। कुछ यही हुआ मध्‍य प्रदेश, मौरेना के एक बेहद गरीब परिवार से आने वाले नवोदित अभिनेता रवि यादव […]

फेसबुक की वजह से मैं बन गया हीरो फिल्म ”पांचाली” में : रवि यादव

सोशल नेटवर्किंग साइट की अहमियत इन दिनों कितनी है, ये इससे पता चलता है कि यह किसी का किस्‍मत भी बना सकती है। कुछ यही हुआ मध्‍य प्रदेश, मौरेना के एक बेहद गरीब परिवार से आने वाले नवोदित अभिनेता रवि यादव के साथ। रवि यादव इन दिनों निर्माता राजकुमार आर .पांडेय और एक्ट्रेस रानी चटर्जी की भोजपुरी फिल्‍म ‘पांचाली’ से डेब्‍यू कर रहे हैं। इस फिल्‍म को देव पांडे निर्देशित कर रहे हैं। चंबल बॉय के नाम से मशहूर रवि यादव का मानना है कि सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक ने उनकी करियर बना दी।


रवि यादव की मानें तो राजकुमार आर पांडेय से उनका संपर्क फेसबुक के जरिये ही हुआ, जिसके बाद उनसे कई मुलाकातें हुई। इसी दरम्‍यां फॉर्मली दिल्‍ली में राजकुमार आर पांडेय ने उन्‍हें फिल्म ”पांचाली” की बात चलाई और आज वे फाइनली इस फिल्‍म में हैं। आपको बता दें‍ कि रवि यादव के पिता सुरेश सिंह यादव एक साधारण किसान थे। लेकिन अपनी मेहनत के बदौलत अपने भरे पूरे परिवार को गांव से निकाल कर मौरेना शहर ले आये। यहीं से रवि ने दसवीं की पढ़ाई पूरी की और यहां से उनके सपनों में सिनेमा आने लगा। कैसे, ये उन्‍हें भी नहीं पता।


रवि खुद मेधावी स्‍टूडेंट थे, जो ग्रेजुएशन के लिए दिल्‍ली यूनिवर्सिटी चले आये। पिता का सपना था कि वे यूपीएससी करें। इसके लिए चार दिनों तक उन्‍होंने क्‍लास भी की। फिर मन नहीं लगा था कोचिंग छोड़ दी। यह दौर उनके लिए आर्थिक रूप से भी अच्‍छा नहीं था। ऐसे में 40 हजार की कोंचिंग छोड़ने उनपर आघात से कम नहीं था। फिर एक दिन पिता से करियर को लेकर फोन पर बात हुई और इस दौरान दोनों खूब रोये भी।


मगर पिता ने रवि से पूछा कि उन्‍हें क्‍या करना है। और जब रवि ने अपने सपने का जिक्र पिता से किया, तब पिता ने भी उन्‍हें सपोर्ट किया। इस वजह से रवि कहते भी हैं कि परिवार का सपोर्ट आपका स्‍ट्रेंथ बढ़ाता है। यही मेरे साथ हुआ और मैं आज भी आगे लगातार बढ़ रहा हूं। रवि ने बताया कि जब वे दिल्‍ली आये थे, तब बहुत मोटे थे। उस वक्‍त सभी दूर भागते थे। लेकिन आज रवि सफलता की सीढ़ी पर चढ़ना शुरू कर दिया।


फिल्म ”पांचाली” उसका उदाहरण है, जिसमें रानी चटर्जी लीड रोल में हैं। रवि ने बताया कि पांचाली के सेट पर उनसे मुलाकात हुई। पहले दो दिन तो उनसे मुलाकात नहीं हुई। जब हुई तो वे मेरे लिए बहुत हेल्‍फुल साबित हुईं। फिल्‍म के दौरान बहुत मजा आया। खासकर राजकुमार आर पांडेय के साथ काम करने मेरे लिए बहुत बड़ी बात है। मेरे स्‍ट्रगल का 98 परसेंट उनको पता है। अगर वे मुझे ब्रेक नहीं देते, तो मैं आज यहां नहीं होता।  आज कल रवि यादव भोजपुरी एक्ट्रेस रानी चटर्जी और निर्देशक देव पांडेय के साथ फिल्म ”पांचाली” की शूटिंग लखनऊ में कर रहे है !

About the author

martin

6 Comments

Click here to post a comment

  • First of all I would like to say excellent blog! I had a quick question in which
    I’d like to ask if you do not mind. I was curious to find out how you
    center yourself and clear your mind before writing. I’ve had trouble clearing my mind in getting
    my ideas out there. I truly do take pleasure in writing however
    it just seems like the first 10 to 15 minutes are usually wasted just trying to figure out how to
    begin. Any suggestions or hints? Cheers!

  • Hi just wanted to give you a brief heads up and let you know a few of
    the pictures aren’t loading properly. I’m not sure why but I think
    its a linking issue. I’ve tried it in two different browsers and both show the same
    outcome.

  • It’s not my first time to pay a quick visit this web site, i am visiting this web page dailly and
    obtain good facts from here every day.

  • I have to thank you for the efforts you have put in writing this
    blog. I am hoping to see the same high-grade content by you in the future as well.
    In fact, your creative writing abilities has inspired me to
    get my own blog now 😉

  • An outstanding share! I have just forwarded this onto a coworker who was doing a
    little homework on this. And he in fact ordered me dinner
    simply because I discovered it for him…
    lol. So let me reword this…. Thank YOU for the meal!! But yeah,
    thanx for spending some time to talk about this issue here
    on your internet site.