News

भटके हुए लोगों को राह दिखायेगी फिल्‍म ‘जिहाद’ : हैदर काजमी

BHOJPURI MEDIA ANKIT PIYUSH भटके हुए लोगों को राह दिखायेगी फिल्‍म ‘जिहाद’ : हैदर काजमी हिंदी फिल्‍म ‘जिहाद’ एक मैसेज ओरिएंटेड फिल्‍म है, जो इसके नाम पर भटके लोगों को राह दिखायेगी। ये कहना है रिलीज से पूर्व दुनिया भर में चर्चा का विषय बन चुकी फिल्‍म ‘जिहाद’ के लीड अभिनेता हैदर काजमी का। उन्‍होंने कहा कि आज‘जिहाद’ के असल मतलब से लोग […]

BHOJPURI MEDIA

ANKIT PIYUSH

भटके हुए लोगों को राह दिखायेगी फिल्‍म ‘जिहाद’ : हैदर काजमी

हिंदी फिल्‍म ‘जिहाद’ एक मैसेज ओरिएंटेड फिल्‍म है, जो इसके नाम पर भटके लोगों को राह दिखायेगी। ये कहना है रिलीज से पूर्व दुनिया भर में चर्चा का विषय बन चुकी फिल्‍म ‘जिहाद’ के लीड अभिनेता हैदर काजमी का। उन्‍होंने कहा कि आज‘जिहाद’ के असल मतलब से लोग अंजान है, जो हम इस फिल्‍म के जरिये लोगों के सामने लेकर आ रहे हैं। ‘जिहाद’ का मतलब होता है अपने अंदर के क्रोध और शैतान को मारना, ना कि इसके नाम पर बंदूक उठाकर बेकसूर लोगों को मारना।‘जिहाद’ को लेकर लोगों के बीच भ्रम की स्थिति है, उसी को साफ करने के लिए‘जिहाद’ नाम से हमने फिल्‍म बनाई है।

गौरतलब है कि फिल्‍म ‘जिहाद’ को इन दिनों एक ज्‍वलंत सोशल काउज के लिए वैश्विक प्रशंसा मिल रही है।  इस फिल्‍म ने वैश्विक पटल पर लोगों को आकर्षित किया है। यही वजह है कि  दुनिया भर के विभिन्‍न फिल्‍म फेस्टिवल में इस फिल्‍म को सराहा गया है। मालटा वर्ल्‍ड इंटरनेशनल फिल्‍म फेस्टिवल 2017,MaverickMovie 2017(Los Angeles), Los Angeles Cinefestऔर Cinema London Film Festival के अलावा टोरंटो इंटरनेशनल नोलिवुड फिल्म फेस्टिवल में यह फिल्‍म अपनी छाप छोड़ चुकी है। वहीं, राकेश परमार द्वारा निर्देशित फिल्‍म ‘जिहाद’ के लिए टोरंटो इंटरनेशनल नोलिवुड फिल्म फेस्टिवल में काज़मी को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार मिला।

इस बारे में हैदर काजमी का कहना है कि फिल्‍म की खासियत है इसका संदेश, जो लोगों के दिल को छू रहा है। वरना अभी तक लोगों में इस शब्‍द को लेकर भटकाव की स्थिति थी। हालांकि अभी तक यह विभिन्‍न फिल्‍मोत्‍सव में दिखाई गई, मगर इस साल ऑल ओवर इंडिया में भी रिलीज हो जायेगी, ताकि देश की जनता इस बेहतरीन फिल्‍म को देख कर अपने शक और शुबहे को दूर कर सकें। फिल्‍म की लीड एक्‍ट्रेस अल्फिया और शूटिंग जम्‍मू –कश्‍मीर में हुई है।

About the author

martin

3 Comments

Click here to post a comment